Best Speech On International Yoga Day 2019 In English & Hindi

Speech On International Yoga Day In Hindi And English - Yoga Day Speech

On the occasion of World Yoga Day 2019, what you are going to speak? Or what would be your speech on Yoga day 2019 and what you know about Yoga and world yoga day? Here you will get all these answers.

After a lot of research and some sort of analysis, we have these best and helpful speeches on Yoga day 2019 which is going to be celebrated across the world on 21 June. Here are 2 Versions of world Yoga day speech (In English, and In the Hindi language). Theses yoga day speeches are helpful, especially for students.

1. Speech for International Yoga Day 2019 In English

First Welcome Your Audience

All the great people and the great number of yoga lovers who are present here at this event, wishing all of you Happy International Yoga Day and my Namaste. Today, Yoga Day is being celebrated everywhere around the world, it is a matter of pride for our country India.

Introduction

Yoga has such a feature that keeps our mind stable and teaches us the art of staying healthy in any ups and downs of life.

There was a time when yoga only used to be the path of the sadhana of the great sage Muni in the cave of the Himalayas. Eras changed and centuries have passed, and today Yoga has become a part of every human being’s life.

Many countries in the world might neither be knowing the language of India nor may be familiar with the culture of India but it’s because of yoga that, today the whole world has started to get involved with India.

When United Nations accepted Yoga as the International Day during a very short period of time with a maximum number of votes, from then, there would hardly be any country in the world where there is no program held in relation to Yoga on the occasion of  World Yoga Day.

Because of the emergence of  Yoga in the last 4 years, many new yoga institutes have been established around the world, and in these 4 years, the demand for Yoga teachers around the world has also increased. This is a matter of pride for India.

There was a time when people used to do yoga in their own way. Now the process of yoga has been improved scientifically and is still improving gradually in India and also in other countries.

In 2016, UNESCO recognized Yoga as the immortal heritage of human culture. Based upon this, it was demanded that in all schools and colleges around the world, yoga training classes should be given to the students.

Today there are also many states in India that have accepted Yoga an education venture so that future generation can become familiar with this ancient science.

There are many options of being healthy but wellness is more important than health, and therefore yoga is a very big medium for achieving wellness in life.

Today there is no question or mark anywhere in the world in terms of yoga. There have been time-favorable changes in terms of yoga. Time to time various societies of the world have been adding something in its regard. That is why Yoga at present is still developing and expanding. Today, on this important occasion, I urge the people of the country and the world to make Yoga a part of their life.

Whether we become a master of yoga or not, become an achiever in yoga or not, but we can become a yoga practitioner.

When you practice yoga for the first time, you will know that there are important organs in your body that you might have never cared about. When you start practicing yoga regularly, you can experience the awakening of your body, you do not need any divine consciousness for it.

Today, I heartily congratulate all Yoga lovers around the world on the fifth International Yoga Day,

And I also congratulate the countries around the world who are associated with yoga.

Thank you.

1. Speech On International Yoga Day 2019 In Hindi (अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2019 पर हिंदी में भाषण)

Here is the Yoga day speech for World Yoga Day 2019 in Hindi.

इस कार्यक्रम में उपस्थित सभी महानुभावों और योग प्रेमियों को पांचवे अंतराष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं और मेरा नमस्कार।

आज, योग दिवस दुनिया भर में हर जगह उत्साह के साथ मनाया जा रहा है, यह हमारे भारत के लिए गर्व की बात है।

योग में एक विशेषता है जो हमारे दिमाग को स्थिर रखती है और हमें जीवन के किसी भी उतार-चढ़ाव में स्वस्थ रहने की कला सिखाती है।

एक समय था जब योग केवल हिमालय की गुफा में महान ऋषि मुनि की साधना का मार्ग हुआ करता था। युग बदले गए और सदियां बीतती रही और आज योग हर इंसान के जीवन का हिस्सा बन रहा है।

दुनिया के कई देश जो भारत की भाषा नहीं जानते हैं और न ही भारत की संस्कृति से परिचित हैं, लेकिन योग के कारण आज पूरी दुनिया भारत से जुड़ने लगी है।

जब संयुक्त राष्ट्र ने बहुत कम समय में अधिक से अधिक बहुमतों से योग को अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में स्वीकार किया है, तब से, दुनिया का शायद ही कोई देश होगा जहां विश्व योग दिवस पर योग के संबंध में कोई कार्यक्रम न हो।

पिछले 4 वर्षों में योग के कारण, दुनिया भर में कई नए योग संस्थान विकसित हुए हैं, और इन 4 वर्षों में, दुनिया में योग के शिक्षकों की मांग भी बढ़ गई है। यह भारत के लिए बहुत गौरव की बात है।

एक समय था जब लोग अपने तरीके से योग करते थे। अब योग की प्रक्रिया में वैज्ञानिक रूप से सुधार हुआ है और अभी भी भारत और अन्य देशों में योग से सम्बंधित सुधार हो रहें हैं।

2016 में, यूनेस्को ने योग को मानव संस्कृति की अमर विरासत के रूप में मान्यता दी । इसके आधार पर, यह कहा गया था कि विश्व के सभी स्कूलों और कॉलेजों में छात्रों को योग प्रशिक्षण कक्षाएं दी जानी चाहिए। आज भारत में भी कई राज्य हैं जिन्होंने योग को एक शिक्षा उपक्रम बना दिया है ताकि भावी पीढ़ी इस प्राचीन विज्ञान से परिचित हो सके।

स्वास्थ्य के लिए कई प्रकार के विकल्प हैं लेकिन स्वास्थ्य की तुलना में कल्याण अधिक महत्वपूर्ण है, और इसलिए जीवन में कल्याण प्राप्त करने के लिए योग एक बहुत बड़ा माध्यम है।

आज योग के मामले में दुनिया में कहीं भी कोई विवाद नहीं है। योग के संदर्भ में समय के अनुकूल परिवर्तन हुए हैं, दुनिया के विभिन्न समाजों ने इसमें कुछ न कुछ जोड़ा है। यही कारण है कि योग का विकास और विस्तार हुआ है।

आज इस महत्वपूर्ण अवसर पर मैं देश और दुनिया के लोगों से योग को जीवन का हिस्सा बनाने का आग्रह करता हूं। हम योग के मास्टर बने या न बने, हम योग के अभ्यस्त बने या न बने, लेकिन हम योग के अभ्यासु बन सकते हैं।

जब आप पहली बार योग करते हैं, तो आपको पता चलेगा कि आपके शरीर में महत्वपूर्ण अंग हैं जिनकी आपने कभी परवाह नहीं की। जब आप योग करते हैं, तो आप अपने शरीर के जागरण का अनुभव कर सकते हैं, आपको इसके लिए किसी दिव्य चेतना की आवश्यकता नहीं होगी।

आज, मैं पाँचवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर दुनिया भर के सभी योग प्रेमियों को हार्दिक बधाई देता हूँ, और मैं दुनिया भर के उन देशों को भी बधाई देता हूँ जो योग से जुड़े हैं।

धन्यवाद।

2. Speech On International Yoga Day 2019

Today, from this platform, I wish all the  Yoga lovers around the world the Fifth International Yoga Day.

It is a matter of pride and happiness for us that more and more people around the world are adopting yoga today.

Women, children, old, young all are becoming a part of yoga.

One reason for this is that Yoga is simple, easy, and accessible to all.

Person of every age group can do yoga smoothly according to his ability. There is no special tool or equipment needed to do yoga, just a small space is required.

Yoga is a great gift to the world by the great saints of India. It is a precious gift given to the world. Yoga guarantees not only fitness but also health. Yoga is also the path of liberation along with freedom.

Yoga combines mind, body, intellect and gives pleasure to the person by eliminating intrigue and stress.

Yoga connects the person to family and society, produces mutual affection, and creates a peace-loving nation and such nations form a harmonious, and beautiful world. That is, yoga is a journey from I to We.

Today, due to modern lifestyle people are suffering from many problems. Diseases such as stress, depression, diabetes, and blood pressure are killing the person from inside. Yoga is the solution to avoid all these diseases.

Yoga is very helpful in getting rid of stress and keeping your mind relaxed.

Yoga is a meditation between agony and conflict.

Yoga turns despair into hope and trust.

Yoga is beyond the boundaries of age, gender, race, religion, and nations.

I am happy that the popularity of yoga is growing at a global level.

After a day of exhaustion, when we wash our face with water, we feel freshness, in the same way after a day of work, if we give little time to Yoga, then our body gets new energy.

Today, as more and more people are making Yoga an important part of their lives, the demand for Yoga teachers is increasing. Today, our challenge is to prepare such trained yoga teachers who can promote this passion and enthusiasm in the real sense and can encourage the youth in particular. Very good luck to you all the yoga lovers and once again Happy International Yoga Day.

Thank You.

2. Speech On International Yoga Day 2019 In Hindi (अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2019 पर हिंदी में भाषण)

आज, इस मंच से, मैं दुनिया भर के सभी योग प्रेमियों को पाँचवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएँ देता हूँ।

यह हमारे लिए गर्व और खुशी की बात है कि आज दुनिया भर में अधिक से अधिक लोग योग को अपना रहे हैं। महिलाएं, बच्चे, बूढ़े, जवान सभी योग का हिस्सा बन रहे हैं। इसका एक कारण यह है कि योग सरल, आसान और सभी के लिए सुलभ है। हर आयु वर्ग का व्यक्ति अपनी क्षमता के अनुसार योग को आसानी से कर सकता है।

योग भारत के महान संतों द्वारा दुनिया के लिए एक महान और अनमोल उपहार है। योग न केवल फिटनेस बल्कि स्वास्थ्य की भी गारंटी देता है।

योग करने के लिए किसी विशेष उपकरण की जरूरत नहीं है, बस एक छोटी सी जगह की जरूरत होती है।

योग स्वतंत्रता के साथ-साथ मुक्ति का मार्ग भी है।

योग मन, शरीर, बुद्धि को जोड़ता है और तनाव को समाप्त करके व्यक्ति को खुशी देता है।

योग व्यक्ति को परिवार और समाज से जोड़ता है, परस्पर स्नेह पैदा करता है, और एक शांतिप्रिय राष्ट्र का निर्माण करता है और ऐसे राष्ट्र एक सामंजस्यपूर्ण सुंदर दुनिया का निर्माण करते हैं।

यानी योग मैं से हम तक की यात्रा है।

आज की आधुनिक जीवनशैली में व्यक्ति कई समस्याओं से पीड़ित है। तनाव, अवसाद, मधुमेह और रक्तचाप जैसी बीमारियां व्यक्ति को अंदर ही अंदर मार रही हैं। योग इन सभी बीमारियों से बचने का उपाय है। तनाव से छुटकारा पाने और मन को शांत रखने में योग बहुत मददगार है।

योग निराशा को आशा और विश्वास में बदल देता है।

योग उम्र, लिंग, जाति, धर्म और राष्ट्रों की सीमाओं से परे है।

दिनभर की थकावट के बाद जब हम अपना चेहरा पानी से धोते हैं, तो किस तरह हम ताजगी महसूस करते हैं, उसी प्रकार अगर हम योग को थोड़ा समय देते हैं, तो हमारे शरीर को नई ऊर्जा और ताज़गी मिलती है।

मुझे खुशी है कि वैश्विक स्तर पर योग की लोकप्रियता बढ़ रही है।

आज, जैसे-जैसे अधिक से अधिक लोग योग को अपने जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बना रहे हैं, योग शिक्षकों की मांग बढ़ रही है। आज हमारी चुनौती प्रशिक्षित योग शिक्षकों को तैयार करना है जो वास्तविक अर्थों में इस जुनून और उत्साह को बढ़ावा दे सकते हैं और विशेष रूप से युवाओं को प्रोत्साहित कर सकते हैं।

आप सभी योग प्रेमियों को एक बार फिर से अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ।

धन्यवाद।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *